NEWS FLASH 1..गणेशोत्सवाबरोबर विधानसभेच्या निवडणुकीचीही होतेय जोरदार चर्चा,2..नांदेड जिल्ह्यात 3 हजार सार्वजनिक गणेश मुर्ती स्थापन होण्याची शक्यता,3...गुटख्याच्या तस्करीवर जरब आणणारे नांदेड पोेलिस नवी दिल्लीच्या बक्षीसास पात्र ठरतील, 4...उत्सव काळात वीजपुरवठा खंडित झाल्यास खपवून घेणार नाही – अ.अखिल अ.हमीद, 5...उत्तराखंडचे माजी मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी महाराष्ट्राचे नवनियुक्त राज्यपाल, 6... मराठवाड्यात दुष्काळमुक्तीसाठी ‘वॉटर ग्रीड’ योजनेतून पाण्याची व्यवस्था – मुख्यमंत्री फडणवीस, 7...माहूरच्या रामगड किल्यात प्रेमी युगलाचा खुन केल्याच्या आरोपातील 11 जणांची मुक्तता, 8...आगामी विधानसभेत वंचित बहुजन आघाडीचाच माणूस विरोधी पक्ष नेता असेल – मुख्यमंत्री, ..., **

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

हिमायतनगर रेलवे स्टेशन का उच्च स्तरीय प्लेटफार्म खराब गुणवत्ता का है

काम के मानक को बढ़ाएं और ठेकेदार पर दंडात्मक कार्रवाई करें - सुभाष दारवंडे 
अन्यथा, काम रोककर प्रहार स्टाईल से आंदोलन करेंगे - बालाजी बलपेलवाड 
फर्जी काम तुरंत बंद करो - रामभाऊ सूर्यवंशी




हिमायतनगर| पिछले २० वर्षों के बाद, दक्षिण मध्य रेलवे के महाप्रबंधक गजानन माल्या ने आदिलाबाद - किनवट रेल्व मार्ग की यात्रा कि, इसके बाद हिमायतनगर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म को सुधारणे का काम शुरू किया गया है। स्टेशन के निर्माण का कार्य करणेवाले संबंधित ठेकेदार द्वारा फ्लैटफार्म बनाने में कूटाही  बरती गई है, भले ही यह उच्च
स्तरीय प्लेटफ़ॉर्म गुणवत्ता का हो। लेकिन ठेकेदार निर्माण कार्य में मनमानी तारिके से काम को अंजाम देणे कि कोशिश कर राहा है| इस मामले में यात्रियों द्वारा हुई शिकण्यात के बाद, शहर के विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने मंगलवार को निर्माण काम का दौरा किया और विभागीय रेलवे मंडल प्रबंधक श्री त्रिकालजनी राभा और आईओडब्ल्यू श्री मीणा से फोन पर शिकायत दर्ज की। साथ हि निर्माण कार्य में पूरा ध्यान देकर निर्माण कार्य के गुणवत्ता में सुधार हो वर्णा फर्जी काम बंद करते हुए आंदोलन करेंगे ऐसी चेतावणी कार्यकर्तोओ ने दि है। अब देखणा यह है कि, इस काम में सुधार आयेगा या पूर्व कि तऱहा निकृष्ठ पद्धतिसे काम पुरा किया जायेगा।



पिछले कुछ वर्षों से, हिमायतनगर में रेलवे स्टेशन असुविधाजनक स्थिति में है। स्टेशन पर आवश्यक सुविधाएं न होने का खामियाजा यात्री वर्ग सहित वृद्ध और महिला लड़कियों को भुगतना पड़ता है। यह अनुमान लगाया गया था कि मार्ग के चौड़ीकरण के बाद सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी, लेकिन सभी आशाए मिट्टी में मिल जाणे के कारण, नागरिकों को सबसे बडी कठिन समय में यात्रा करने कि नौबत आई है। यहा के स्टेशन से धर्म -  अध्यात्म के भक्तों, गोर-गरीब नागरिकों, धार्मिक स्थलों की यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों, यात्रा करने वाले व्यापारियों को उनके स्थानों तक पहुंचने के लिए कई ट्रेनों को स्थानांतरित करणा पडता है। इसके अलावा महत्वपूर्ण धनबाद - कोल्हापुर ट्रेन का हिमायतनगर रेलवे स्टेशन पर कोई ठहराव नहीं है; पिछले साल हिमायतनगर रेलवे स्टेशन पर सिकंदराबाद के महाप्रबंधक की अचानक भेट में रेलवे संघर्ष समिति और प्रेस एसोसिएशन ने विभिन्न मांगें प्रस्तुत की थीं। इसे देखते हुए इस हिमायतनगर रेल्वे सदन का काम शुरू किया गया है।



किंतु, उच्चस्तर प्लेटफार्म का निर्माण कार्य करनेवाले ठेकेदार ने रेलवे स्टेशन के काम की गुणवत्ता को नीचे लाकर रख दिया है। पूर्व निर्माण किये गाये काँक्रेट का काम जेसीबी द्वारा हटाए जाने के बावजूद उक्त जमीन पर मुरूम डालकर रोलर से दबाई करणे के बाद सीमेंट काँक्रेट निर्माण का काम करना जरुरी है, लेकिन इसे बिना दबाए काँक्रेट किया जा रहा है। इसी काँक्रेट के साइड के पीछे फुटपाथ पर, कंक्रीट को सीधे मिट्टी के उपर डालकर निकृष्ट काम हो रहा है| इसलिये हिमायतनगर रेल स्थानक के निर्माण कार्य रेलवे के महाप्रबंधक गजानन माल्या, नांदेड़ डिवीजन रेलवे के डिवीजनल मैनेजर श्री त्रिकालजनी राभा और सरकार की आंखों में धूल झोंकता दिखाई दे रहा हैं। आगामी १३ दिसंबर को रेलवे विभाग के वरिष्ठ अधिकारी समीक्षा के लिए पहुंचेंगे, इसलिए उच्च स्तर के प्लेटफार्मों पर तेज गति से काम किया जा रहा है। किंतु हिमायतनगर रेल स्थानक के निर्माण कार्य में ठेकेदार द्वारा मिट्टी और धूल के साथ मिश्रित रेती और पत्थर कि डस्ट का उपयोग कर रहा है। इसीलिये शिकायतकर्ताने क्रोध व्यक्त किया है कि, अतीत में किए गए घटिया निर्माण कार्यों के कारण कई लोग अपनी जान गंवा देंगे।



इस तरह के यात्री वर्ग को समझने के बाद, फुले, शाहू, अंबेडकर के सुभाष दरवंदे, असद मौलाना, प्रहार संघ के जिला उपाध्यक्ष बालाजी बलपेलवाड़, भाजप तालुकाध्यक्ष आशिष सकवान, भाजपा युवा मोर्चा तालुका के अध्यक्ष रामभाऊ सूर्यवंशी, शहर अध्यक्ष खंडू चव्हाण ने इस रेलस्थान का दौरा किया। इस समय कोई सेक्शन इंजीनियर (pwi) मौजूद नहीं था। केवल एक निजी इंजीनियर, हिमायतनगर का एक मजदूर, काम करता पाया गया। इसलिए, वरिष्ठ नागरिकों को टेलीफोन द्वारा परिसर में किए जा रहे अपमानजनक कार्य को रोकने की मांग की गई थी। इस समय IWA श्री मीणा ने कहा, मुझे पहले भी शिकायत मिली है, कि मैंने ठेकेदार को काम रोकने का आदेश दिया है। यदि आप अभी भी काम कर रहे हैं, तो एक काम फोटो और फिल्म भेजें और इसे ठीक किया जाएगा। और वास्तविक कार्य का निरीक्षण करने के बाद, उन्होंने कहा कि अगला काम किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: